Big breaking :-उत्‍तरकाशी गंगोत्री हाईवे पर फंसे हुए है बड़ी संख्या में तीर्थयात्री, रहने-खाने की आ रही है दिक्‍कत, नाराजगी..

0
9

उत्‍तरकाशी गंगोत्री हाईवे पर फंसे हुए है बड़ी संख्या में तीर्थयात्री, रहने-खाने की आ रही है दिक्‍कत, नाराजगी..

हिंदुस्तान टीवी न्यूज़:-उत्‍तरकाशी में गंगोत्री हाईवे पर फंसे हुए हैं 3000 तीर्थयात्री, रहने-खाने की आ रही है दिक्‍कत गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर हेल्गू गाड़ व सुनगर के बीच राजमार्ग बुधवार की शाम से अवरुद्ध है। करीब 3000 तीर्थ यात्री राजमार्ग अवरुद्ध होने से फंसे हुए हैं। इन यात्रियों के सामने सबसे अधिक समस्या रहने खाने की है। साथ ही कई तीर्थ यात्री बुजुर्गों और बीमार भी हैं।गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर हेल्गू गाड़ व सुनगर के बीच भारी भूस्खलन के कारण राजमार्ग गुरुवार पूरे दिन अवरुद्ध रहा।
बुधवार की शाम को राजमार्ग बाधित हुआ। सुनगर से लेकर गंगोत्री धाम के बीच बुधवार से तीन हजार तीर्थयात्री फंसे हुए हैं। तीर्थयात्रियों को खाने-रहने सहित बच्चों के लिए दूध आदि की समस्या से जूझना पड़ रहा है। गंगोत्री धाम में गुरुवार की सुबह हृदय गति रुकने से मरे तीर्थयात्री का शव भी उत्तरकाशी जिला अस्पताल नहीं पहुंचाया जा सका।वीरवार की देर रात को जब सुनगर के पास पुलिस का वाहन पहुंचा तो तीर्थ यात्रियों ने जमकर हंगामा काटा और पुलिस वाहन का भी घेराव किया। पुलिस ने तीर्थ यात्रियों से हर्षिल धराली व गंगोत्री लौटने के लिए कहा। तीर्थयात्रियों ने कहा कि उनके वाहनों में इतना अधिक डीजल पेट्रोल नहीं है कि वहां फिर से वापस गंगोत्री व हर्षिल जा सकें।

सुनगर व हेल्गू गाड़ के बीच बुधवार शाम हुआ भूस्खलन:
गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर गंगोत्री धाम से 55 किलोमीटर उत्तरकाशी की ओर से सुनगर व हेल्गू गाड़ के बीच बुधवार की शाम चार बजे भूस्खलन हुआ। लगातार भूस्खलन होने के कारण राजमार्ग को सुचारू नहीं किया जा सका। गंगोत्री धाम के दर्शन कर उत्तरकाशी लौट रहे करीब तीन हजार यात्रियों को सुगनर, गंगनानी, डबराणी में खासा परेशान होना पड़ा।डीजल पेट्रोल नहीं है कि वहां फिर से वापस गंगोत्री व हर्षिल जा सकें।
##हिंदुस्तान टीवी न्यूज़
रिपोर्ट मोहन नेगी

ओली सीमेंट एजेंसीज एंड बिल्डिंग मैटेरियल्स मेन चौराहा कुटरा समस्त क्षेत्रवासियों का स्वागत करते हैं संपर्क सूत्र📞7902175700 📞9759468416 हमारा व्हाट्सएप नंबर 9759201161

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here